101 Psychology facts in hindi | रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य 

101 रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे |

1.दोस्तों क्या आपको पता है कि देर रात में बात करने पर ज्यादातर लोग सचबोलते हैं। जी हां दोस्तों अगर आप किसी इंसान से रात में बात करते हो तो इस बात की सम्भावना ज्यादा है कि वह इंसान सच बोलेगा |

2. अगर मान लो आपको कोई सपना आया रात में तो आप कितनी भी कोशिश करलो लेकिन फिर भी आप यह याद नहीं कर सकते कि आपका सपना कहां से शुरू हुआ था।

4. जो लोग बहुत ज्यादा झूठ बोलते हैं। वह दूसरों का झूठ पकड़ने में भी एक्सपर्ट होते हैं |

5.वैज्ञानिकों के अनुसार जिन लोगों की फ्रेंडशिप 7 साल से ज्यादा टिक जाती है , फिर वह दोस्ती कभी नहीं टूटी है । चाहे उन  दोनों व्यक्तियों के बीच इतनी भी नाराजगी हो , चाहे बातचीत भी बंद हो जाए लेकिन उन दोनों की बीच की जो फ्रेंडशिप है , वह कभी नहीं टूटेगी |

6. हम अपने सपने में किसी अनजान व्यक्ति को नहीं देख सकते है |

7. साइकोलॉजी के अनुसार कोई भी व्यक्ति केवल तीन कारणों की वजह से आप से नफरत कर सकता है।

  1. आप जो काम कर सकते हो,वह काम वह इंसान नहीं कर सकता या उस इंसान को वह काम पसंद नहीं है।
  2.  आपके पास बहुत सारी वेल्थ है , बहुत सारा पैसा है ,बहुतसारी संपत्ति है , और आप उससे काफी आगे हो |
  3. उस बंदे का स्वभाव ही ऐसा है। उसका नेचर ही ऐसा है कि वह सभी से नफरत करता है।

8.आप किसी व्यक्ति को सॉरी बोलते हो तो इसे यह निश्चित नहीं होता है कि आप सही हो या गलत | कई  बार इंसान को बिना गलती के भी सॉरी बोलना पड़ जाता है। साइकोलॉजी में बताया गया है कि सॉरी बोलने से यह पता चलता है कि आपके लिए आपकी इगो से ज्यादा वह रिलेशन मैटरकरता है।  इसलिए कभी भी ऐसा कुछ हो जान सॉरी बोलने की जरूरतना भी हो लेकिन एक सॉरी वर्ड बोलने से सब कुछ हलहो सकता है तो सॉरी बोल देना चाहिए। सॉरी वर्ड बोलने से कोई इंसान छोटा या बड़ा नहीं हो जाता।

9. साइकोलोजी कहती है यदि कोई लड़की आपकी आँखों में बहुत देर तक देख रही है तो  इसका मतलब है ? की वो इंसान आपमें बहुत ज्यादा इंटरेस्टेड है |

10.ह्यूमन साइकोलॉजी के अनुसार हम अपने सपने में अक्कसर उन्ही लोगों को देखते हैं जिनके बारे में हम ज्यादा सोचते हैं।

11. ह्यूमन साइकोलॉजी के अनुसार sense of humor (मजाक करने की आदत) की एक मजबूत भावना आमतौर पर intelligence और ईमानदारी से जुड़ी होती है। यही कारण है कि ज्यादातर महिलाएं उन पुरुषों की ओर आकर्षित होती हैं जिनके पास sense of humor की मजबूत भावना होती है

12. ह्यूमन साइकोलॉजी के अनुसार जो व्यक्ति अपने जीवन का एक लक्ष्य निर्धारित करके अपना पूरा जीवन उस लक्ष्य के प्रति लगा देते हैं ऐसे व्यक्ति ज्यादा खुश महसूस होते हैं उन लोगों के मुकाबले जिन लोगों के पास अपने जीवन की सही दिशा नहीं है।

13.किस करने से दिमाग में मौजूद कई सारे हॉर्मोन्स रिलीज हो जाते हैं। इन हॉर्मोन्स के रिलीज होने पर इंसान खुश महसूस करता है। इन कैमिकल्स में ऑक्सीटॉसिन, डोपामाइन और सेरोटोनिन शामिल होते हैं। इनके रिलीज होने से इंसान अच्छा फील करता है। साथ ही लोगों के बीच की बॉन्डिंग मजबूत होती है।

14.ह्यमन साइकोलॉजी के अनुसार लड़कियां अपनी खूबसूरती  से कभी पूरी तरह Satisfied नहीं हो पाती, उन्हे दूसरी लड़कियों की खूबसूरती ज्यादा अच्छी लगती हैं।

15.जर्नल ऑफ फैमिली साइकोलॉजी के एक शोध से पता चला है कि खुशी आय के स्तर की तुलना में मधुर पारिवारिक रिश्तों पर अधिक निर्भर करती है। इसलिए, जब आपसी रिश्तों में प्यार होता है तो लोग खुश रहते हैं और एक हैप्पी लाइफ जीते हैं।

16.यदि कोई गाना आपके दिमाग मे आकर अटक गया है न चाहते हुए भी बार-बार आप उसे गुनगुनाये जा रहे है तो चुंगम  चबाइए थोड़े है | देर मे आप उसे भूल जायेंगे।

17.यदि आप एक बार किसी को नापसंद करने लगते हो तो वह जो कुछ भी करता है वह आपको परेशान करने लगता है|

18.किसी से बात करते समय मिरर बॉडी लैंग्वेज का इस्तेमाल करें। किसी और के इशारों को सूक्ष्म तरीके से कॉपी करना आपको अधिक आकर्षक और पसंद करने वाला बनाता है।

19.यदि आपको किसी से मदद चाहिए तो ऐसा बोले मुझे आपकी मदद चाहिए वह मना नहीं कर पाएंगे क्योंकि मना करने से वो अपने आप को कमजोर मानते हैं.

20.हमारा दिमाग बहुत ही Sensitive होता है यह हर समय खुद को किसी ना किसी सोच मे उलझाये रखता है। और जब भी आप कुछ नया सीखते हो तो ये खुद का Structure (संरचना) उस काम के अनुसार बदल लेता है।

21.जो लोग पढ़ते समय मुंह में पेंसिल/पेन डालकर सोचते है, वे लोग ज्यादा स्मार्ट होते है। आमतौर पर लोग सच सुनने से इसलिए कतराते हैं क्योंकि वो नहीं चाहते कि उनका भ्रम टूटे।

22.अगर आपके आसपास के लोग ज्यादातर नकारात्मक सोचते हैं तो आपका सोच भी उन जैसों की तरह बनने की संभावना ज्यादा है।

23.जब कई लोग इकट्ठा होकर किसी का मजाक उड़ाते है तो वह आदमी ज्यादातर उसी आदमी की तरफ देखता है जिसे वह अपने दिल के सबसे करीब मानता है।

24.आपका पसंदीदा गाना आपको इसलिए पसंद हैं क्योंकि वह आपकी जिंदगी की असल घटना के साथ जुड़ा होता है |
अपने अंदर आने वाले विचारों को कागज पर लिखने से आपका मूड पहले से बेहतर बनता है।

25.जो अलग जाति या नस्ल के लोगों से घृणा करते हैं उनको दूसरों से डर होता है। इसको मनोविज्ञान में पक्षपात पूर्वाग्रह (ingruop bias) कहते हैं। इन लोगों को जो बाहरी या अपिरिचित लोग होते हैं उनसे एक अनजान डर लगता है।

26.आप वॉक करते हुए अपने दोस्त से बात कर सकते हैं, लेकिन आपका दिमाग इन दोनों में से एक ही चीज को महत्व देता है, इसका मतलब ये है कि एक ही बार में आप दो चीजों पर ध्यान नहीं दे सकते।

27.महिलाएँ सिर्फ उन्ही लोगो को साथ बहस करती है जिनकी वो सच में care करती है।

28.अपने काम पर जाने से पहले एक संतरा जरूर खाना चाहिए क्योंकि मनोविज्ञान के अनुसार संतरा आपके तनाव के स्तर (stress level) को कम करने में मदद करता है। अगर कोई इंसान आपसे जलता है तो इसका मतलब यह है कि वह इंसान आप जैसा बनना तो चाहता है लेकिन वह बन नहीं सकता।

29.अगर आप यही सोचते रह गए की दूसरे लोग आपके बारे में क्या बोलेंगे तो फिर आप जिंदगी में कभी सुखी नहीं हो पाएंगे।

30.लगभग 95% लोग एक नया कलम (pen) खरीदने के बाद सबसे पहले खुदका नाम ही लिखते हैं। आपने भी कभी ना कभी तो किया ही होगा।

31.किसी जोक पर हंसने के लिए हमारे दिमाग को पांच अलग-अलग हिस्सों में काम करना पड़ता है |

32.अगर कोई इंसान छोटी-छोटी बातों पर ज्यादा गुस्सा करता है तो इसका मतलब उसके जिंदगी में प्यार की कमी है।

33.किसी के गले लगने पर हम तनाव मुक्त और तरो-ताजा महसूस करते हैं. किसी व्यक्ति को 20 सेकंड्स से ज्यादा देर तक गले लगने पर हम उस व्यक्ति पर ज्यादा भरोसा करने लगते हैं |

34.अगर सोने से पहले आपके दिमाग में किसी व्यक्ति का ख्याल आता है तो इस बात की संभावना ज्यादा है कि या तो वह इंसान आपकी खुशी या फिर आपकी दुख का कारण है।

35.जिन लोगों को बहुत तेजी से गुस्सा आता है, वे उस समय गहरे तनाव में होते हैं और उन्हें तुरंत प्यार और अपनापन की जरूरत होती है।
कभी-कभी हम किसी काम को करने से ज्यादा उसके बारे में सोचकर ज्यादा खुश होते हैं. जो लोग झूठ बोलने में माहिर होते हैं | उनके सामने कभी झूठ मत बोलना क्योंकि वह झूठ पकड़ने में भी माहिर होते हैं।

36.चिंता, चिता समान होती है। क्योंकि जब आपका दिमाग कुछ सोचता है तो उसका प्रभाव आपके कोशिकाओं में भी पड़ती है। इसीलिए ज्यादा बुरा सोचने से आपके शरीर पर उसका बुरा प्रभाव भी पड़ सकता है।

37.यदि आप से कोई कलम (Pen) मांगे तो उसे दे दीजिए लेकिन ढक्कन अपने साथ रखिये क्योंकि, बिना ढक्कन के कलम ज्यादातर लोग जेब में नहीं डालते।

38.एक अध्ययन में पाया गया कि जिनके दोस्त बहुत कम होते हैं वो दुसरो से ज्यादा बुद्धिमान होते हैं और उनकी सोच भी दुसरो से अलग होती हैं।

39.किसी के साथ लगातार ज्यादा देर तक बात करने से उसके साथ प्यार में पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।

40.हाई IQ लेवल वाले लोगों को किसी के साथ प्यार में पड़ने में कठिनाई होती है |

41.शब्दों में आपको चोट पहुंचाने की शक्ति नहीं होती है, जब तक कि सामने वाला व्यक्ति आपके लिए बहुत मायने नहीं रखता हो

42.जब आप किसी मे मिलते है उसके चार मिनट के अंदर आपका दिमाग यह समझ जाता है कि आपने उसे पसंद किया है या नहीं। इसलिए जब आप किसी मे मिलते है तब वो चार मिनट ही काफी होता है उसे पसंद या ना पसन्द करने का।

43.अजनबियों की आंखों में अधिक बार देखने से उन्हें और आप दोनों को प्यार हो सकता है।

44.जो व्यक्ति सभी को खुश रखता है सामान्यतया खुद में वो अकेला और दुखी होता है |

45.अगर आप किसी के घूरने से परेशान हो गई हैं तो उस आदमी के जूतों की तरफ देखना शुरू कर दीजिए वह घूरना बंद कर देगा।

46.आप कितनी भी कोशिश करने के बाद यह याद नहीं रख सकते कि आपका सपना कैसे शुरू
हुआ था.

47. कॉमेडियन और मज़ाकिया लोग, आम लोगों की तुलना में ज्यादा दुखी और अकेले होते हैं.

48. Good Morning और Good night संदेश मस्तिष्क के उस हिस्से को Active करते हैं जो खुशी के लिए जिम्मेदार है।

49. अगर कोई रो नहीं सकता, इसका मतलब कि वो इंसान भावनात्मक रूप से कमज़ोर हैं रोना एक व्यक्ति को कमज़ोर नहीं, बल्कि भावनात्मक
रूप से मज़बूत बनाता हैं.

50. हम दिन के समय की तुलना में रात में ज्यादा आसानी से रो सकते हैं.

60. 80% Girls अपना सारा दुख रो कर के निकाल देती हैं, जबकि 27% लड़के ही ऐसा कर पाते हैं।

70. सबसे ज्यादा व्यक्ति को परेशान उसकी सोच और विचार ही करते हैं। इसलिए इन्हें पॉजिटिव रखें।

71. हमारा मस्तिष्क उन कामों को महत्वपूर्ण नहीं मानता है जिनको पूरा करने के लिए अभी काफी समय बचा हुआ है | जिन कामों की समय-सीमा एक दम सिर के ऊपर होती है हमारा दिमाग उन कामों को ही प्रायोरिटी देता है |

72. एक व्यक्ति जिस तरह से Restaurant के कर्मचारियों के साथ व्यवहार करता है उससे उनके चरित्र के बारे में बहुत कुछ पता चलता है |

73. किसी का कॉल उठाने से पहले थोड़ा मुस्कुरा लेना आपकी आवाज को अच्छा बना देता है।

74. लोग थके होने पर ज्यादा ईमानदार होते हैं, इसलिए अगली बार अगर आप किसी से कुछ ईमानदार चाहते हैं, तो रात के मौके पर इसके बारे में बात करने की कोशिश करें, ताकि दिन की तुलना में आपको
ईमानदार जवाब मिल सके।

75. आप अपने शरीर को जितना ज्यादा आराम दोंगे उतना ज्यादा वो मांगेगा. और जितना उससे
काम लोंगे उतना ज्यादा वो करेंगा

76. इच्छा कभी नहीं मरती यह अवचेतन में चली जाती है और समय मिलने पर निकलकर सामने
आती है।

77. Smile तनाव को कम करती है। smile करने से हमारा शरीर endorphin नामक केमिकल release करता है जो तनाव को घटाता है।

78. कोई भी इंसान उस वक़्त ज़्यादा तेज़ पलकें झपकाता है, जब वो स्ट्रेस में हो या फिर झूठ बोल रहा हो.

79. हमारे दिमाग को लंबे उबाऊ लेखों के बजाय छोटे और रोचक तरीके से लिखी जानकारियाँ ज्यादा
पसंद होती है।

80. मनोविज्ञान के अनुसार कुत्ते व बिल्लियों को जब यह पता चलता हैं कि अब वो नही बचेंगे तब वे अपने आप को अपने मालिक से अलग कर लेते हैं.

81. यदि आपको एक ही समय दो लोगो से प्यार हो जाता है और उन दोनों में से किसी एक को छोड़ना पड़े तो आप हमेशा पहले वाले को ही छोड़िए। क्योंकि यदि आपको सच में पहले वाले से प्यार होता तो दूसरा आपके जिंदगी में आता ही नहीं।

82. किसी प्रियजन का हाथ पकड़ने से हमारा तनाव कम हो सकता है और हम अधिक शांत और खुश महसूस करते हैं।

83. अच्छी शक्ल-सूरत वाले बच्चे स्कूल में बाकि बच्चों की तुलना में सजा कम पाते हैं.

84. जैसा आपका दिमाग सोचता हैं वैसा ही आपकी cell React करती हैं. इसलिए अधिक नेगेटिव सोचने पर आपको बीमार जैसा महसूस होने लगता हैं.

85. अगर आप किसी से बात कर रहे हो और सामने वाला चुप करके सिर झुकाए खड़ा है तो इसका मतलब है कि उस इंसान को आपकी बातों में
कोई रुचि (interest) नहीं है |

86. मनोविज्ञान के अनुसार किसी को भी अपने जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा ना बनाये। क्योंकि जब वे बदलेंगे तो आप उनसे घृणा नहीं कर पाएंगे बल्कि
आप खुद से घृणा करने लगेंगे.

87. ह्यूमन साइक्लोजी के अनुसार जो लोग सार्वजनिक व भीड़ वाले स्थानों में घूमते समय अपनी जेब में अपना हाथ रखते हैं वे आम तौर पर Introverted
या शर्मीले होते हैं।

88. अगर आप किसी इंसान को पसंद करते हैं, तो उसके साथ काम करते हुए चीज़ों को जल्दी सीखते हैं.

89. मनोविज्ञान के अनुसार पर्याप्त नींद न लेना और भूखे रहना गुस्सा होने के दो सबसे बड़े कारण हैं।

90. आप किसी से कुछ पूछते हैं और वह अधूरा जवाब दें तो कुछ सेकंड रूकें। चुप रहकर उससे आई कॉन्टैक्ट करेंगे तो वह थोड़ी देर में पूरा जवाब देगा।

91. जो लोग सोने से पहले संगीत सुनते हैं वह अच्छी नींद प्राप्त करते हैं और रात के दौरान नींद में जगते नहीं और तो और वह सुबह तरोताजा
महसूस करते हैं।

92. यदि आप यह दिखाना चाहते हैं कि आप कितने महत्वपूर्ण हैं, तो तब तक लोगों को ignore करें जब तक वे मदद नहीं मांगते, उन्हें पता चल जाएगा कि आप कितने महत्वपूर्ण हैं

93. हम कभी भी अपने दिमाग को 100% लापरवाह नहीं बना सकते. दिमाग का कोई न कोई हिस्सा हमेशा अपने प्रति सतर्क रहता है |

94. कुछ लोगों को नींद में चलने की बीमारी होती है जिसे “Sleep Walking” कहते हैं. यह एक मनोवैज्ञानिक बीमारी है यदि सही समय पर ठीक से नींद ली जाए तो यह बीमारी होने की संभावना ना के बराबर होती हैं.

95. बुद्धिमान महिलाओं को साथी को खोजने में अधिक कठिनाई होती है। वह गलत व्यक्ति के साथ रहने की बजाय अकेली रहना अधिक
पसंद करती हैं!

96. किसी के साथ ज्यादा समय बिताने से आप उसकी आदतें अपनाने लगते हैं इसलिए
सोच-समझकर दोस्त बनाएं.

97. हम जिस तरह का संगीत सुनते हैं, हमें दुनिया वैसी ही लगने लगती है |

98. हमारा मस्तिष्क एक उबाऊ (Boring) काम को पल भर में मजेदार काम में बदल देता है, अगर हम सच में उस काम को करना चाहते हैं.

99. हमारा मस्तिष्क हमेशा समस्याओं को खोजने की कोशिश करता है क्योंकि यह उन्हें हल करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यही मुख्य कारण है कि हमें बार-बार समस्याओं का सामना करना पड़ता है |

100. जब दो प्रेमी एक-दूसरे की आंखों में लगातार देखते हैं, तो उनके दिल के धड़कने की गति एक समान हो जाती हैं कुछ
असाधारण शोधों में पाया गया है कि जो जोड़े रोमांटिक रिश्ते में प्यार और बंधन में हैं, वे तीन मिनट के लिए एक। दूसरे की आंखों में झांकने के बाद अपने दिल की दर को सिंक्रनाइज़ कर सकते हैं।

101. लड़कियां इतनी ज्यादा संवेदनशील होती हैं कि अगर कोई लड़का कोई बेहद सेंटीमेंटल बात कह दे, तो वह उसे जिंदगी भर नहीं भूलती  |

Please follow and like us:

Leave a Comment

Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial